शिक्षिका ने खंड शिक्षा अधिकारी व दो शिक्षक नेताओं पर लगाया शारीरिक शोषण का आरोप, मची खलबली

On

Deoria News : शिक्षा क्षेत्र भागलपुर में एक परिषदीय महिला शिक्षिका द्वारा ब्लॉक के खंड शिक्षाधिकारी और शिक्षक संघ के दो पदाधिकारियों पर गंभीर आरोप लगाया गया, जिसका पत्र सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। वायरल पत्र से बेसिक शिक्षा विभाग में खलबली मच गई है। नतीजतन जिलाधिकारी के निर्देश पर बीएसए शालिनी श्रीवास्तव ने मामले की जांच शुरू कर दी है। आरोपी खंड शिक्षाधिकारी व शिक्षक संघ के दोनों पदाधिकारियों से तीन दिनों के भीतर अपना पक्ष प्रस्तुत करने को कहा गया है।

महिला शिक्षक ने महानिदेशक स्कूल शिक्षा व महिला आयोग समेत जिले के आला अफसरों को भेजे शिकायती पत्र में कहा है कि उसका अंतरजनपदीय स्थानान्तरण हो गया है। पत्र में कुछ और महिला शिक्षिकाओं के हस्ताक्षर भी हैं। वायरल पत्र के मुताबिक, महिला शिक्षिका भागलपुर ब्लॉक में कई वर्षों से कार्यरत थी।

आरोप है कि खंड शिक्षाधिकारी व शिक्षक संघ के दो पदाधिकारियों ने उसे बेल्थरा के एक होटल में बुलाया तथा उसके साथ जबरदस्ती शारीरिक संबंध बनाया। इस घटना के बारे में बताने पर सस्पेंड करने की धमकी दी गई। महिला शिक्षिका ने आरोप लगाया है कि इस तरह से शोषण होने वाली वह अकेली शिक्षिका नहीं है। कई महिला शिक्षिका बदनामी के भय से अपनी आवाज नहीं उठा पा रही हैं।

महिला शिक्षिका ने यह भी आरोप लगाया है कि स्कूल से अनुपस्थित रहने पर शिक्षिकाओं से पैसे वसूले जाते हैं। महिला शिक्षिका ने आरोप लगाया कि उसके अंतरजनपदीय स्थानान्तरण की फाइल पर हस्ताक्षर के नाम पर खंड शिक्षाधिकारी ने रुपये लिए। साथ ही साथ खंड शिक्षाधिकारी व दोनों शिक्षक नेताओं को खुश भी करना पड़ा था। महिला शिक्षिका के इस पत्र से विभागीय गलियारे में भूचाल आ गया है। 

यह भी पढ़े - UP Crime News: मामी की बहन से युवक ने किया दुष्कर्म, खींचे अश्लील फोटो, रिपोर्ट दर्ज

Ballia Tak on WhatsApp

Comments

Post A Comment