शनिवार को हुई थी उम्मीदवारों की घोषणा : बीजेपी को बड़ा झटका, पवन सिंह ने आसनसोल से चुनाव लड़ने से किया इंकार

On

New Delhi : भोजपुरी सिंगर पवन सिंह ने आसनसोल से चुनाव लड़ने से मना कर दिया है। शनिवार को ही पार्टी ने उन्हें लोकसभा चुनाव का उम्मीवार बनाया था। पवन सिंह ने अपने सोशल मीडिया पर इस संबंध में जानकारी दी है। उन्होंने लिखा- 'भारतीय जनता पार्टी के शीर्ष नेतृत्व का दिल से आभार प्रकट करता हूं। पार्टी ने मुझ पर विश्वास करके आसनसोल का उम्मीदवार घोषित किया, लेकिन किसी कारणवश मैं आसनसोल से चुनाव नहीं लड़ पाऊंगा।' 

पहले जताया था पार्टी का आभार

यह भी पढ़े - महाराष्ट्र: गढ़चिरौली मुठभेड़ में मारे गए 12 नक्सली, उन पर कुल 86 लाख रुपये का था इनाम

पवन सिंह को जब शनिवार को भाजपा ने आसनसोल से अपना उम्मीदवार घोषित किया था, तब वह बेहद खुश नजर आ रहे थे। उस दौरान उन्होंने कहा था कि 'अगर पार्टी ने मुझ पर भरोसा किया है, तो मैं पूरी ईमानदारी के साथ आसनसोल की धरती पर जनता की सेवा करूंगा।' उन्होंने कहा था कि 'भोजपुरी भाषा को जहां कहीं भी सुना जाता है और बोला जाता है वो मेरा घर है। मेरे पिता जी बंगाल में नौकरी करते थे, मुझमें बंगाल का नमक है।'

किस कारण से चुनाव नहीं लड़ेंगे पवन?

पवन सिंह ने अपने पोस्ट में लिखा है कि वह किसी 'कारणवश' चुनाव नहीं लड़ पाएंगे। अब ये पूछा जा रहा है कि जो पवन सिंह कल तक टिकट मिलने पर उछल पड़े थे, आखिर उन्हें अगले 24 घंटे में ही ऐसा कौन सा कारण दिख गया कि उन्होंने चुनाव लड़ने से ही मना कर दिया। उन्हें शत्रुघ्न सिंहा के खिलाफ चुनावी मैदान में उतरना था। बताया जा रहा है कि पवन सिंह बिहार से चुनाव लड़ना चाहते थे, लेकिन वहां से टिकट नहीं मिलने पर वह नाराज हैं।

टीएमसी ने ली मामले पर चुटकी

पवन सिंह के चुनाव न लड़ने के फैसले के बाद टीएमसी ने चुटकी ली है। टीएमसी महासचिव अभिषेक बनर्जी ने सोशल मीडिया पर लिखा- 'पश्चिम बंगाल के लोगों की अदम्य भावना और ताकत।' पवन सिंह भाजपा का स्टार चेहरा हैं। बताया जाता है कि पवन सिंह की नेटवर्थ करीब 50 से 60 करोड़ रुपये है। उनकी गिनती भोजपुरी के सबसे महंगे एक्टर्स में की जाती है।

Ballia Tak on WhatsApp

Comments

Post A Comment

Popular Posts