बिहार में डूबने से 23 लोगों की मौत, गहरे पानी में जाने से आधा दर्जन से अधिक मासूमों की गयी जान..

On

Bihar News: बिहार में डूबने से 23 लोगों की एक दिन में मौत हुई है. शुक्रवार को अलग-अलग जिलों में हुए हादसों में करीब दो दर्जन लोगों की जान चली गयी. भागलपुर, मधेपुरा, बांका, सहरसा, सुपौल, अररिया, कटिहार और लखीसराय में ये हादसे हुए हैं. नवादा, रोहतास, कैमूर, भोजपुर, नालंदा,बेतिया और बेगूसराय में भी अलग-अलग जगहों पर डूबने से लोगों की मौत हुई है. मृतकों के परिजनों में मातम पसरा हुआ है. नवादा में चार किशोरों की मौत हुई जबकि बांका के एक गांव में तालाब में डूबने से तीन बच्चियों की मौत हो गयी.

बांका में तीन बच्चियों की मौत

बांका के बाराहाट थाना क्षेत्र के बभनगामा गांव स्थित तालाब में डूबने से दो सगी बहन सहित एक चचेरी बहन की एक साथ मौत हो गयी. जानकारी के अनुसार वकील मंडल की पुत्री 7 वर्षीय डोली कुमारी एवं 8 वर्षीय किरण कुमारी तथा संजय मंडल की 9 वर्षीय पुत्री बेबी कुमारी गुरुवार को नहाने के लिए अपने घर से कुछ दूर स्थित तालाब गयी थी. जहां नहाने के क्रम में एक-एक कर तीनों बहनें गहरे पानी में डूब गयी. जिससे तीनों की मौत हो गयी. बताया जा रहा है कि स्नान के लिए तालाब पर कुल चार बच्चियां गयी हुई थी. परिजनों के मुताबिक जब एक बच्ची गहरे तालाब में डूब रही थी तो उसे बचाने के क्रम में ही तीनों बच्ची डूब गयी.

यह भी पढ़े - राहुल गांधी का दावा…कभी भी गिर सकती हैं एनडीए सरकार

भागलपुर में डूबने से तीन की मौत

भागलपुर के कहलगांव थाना क्षेत्र के जेठियाना में भैरन पोखर घाट पर स्नान करने के क्रम में पानी में डूबने से एक बच्ची की मौत हो गयी. बच्ची की पहचान पप्पू मांझी की सात वर्षीय बेटी कुसुम कुमारी के रूप में की गयी. वह हज्जूडीह खरवा थाना गोराडीह की रहने वाली थी. जो जेठियाना निवासी अपने मौसा संजय मंडल के पास रहती थीं. कहलगांव के ही सती घाट चारों धाम में गंगा स्नान करने के दौरान गुरुवार को पैर फिसल जाने के कारण शिवनारायणपुर निवासी गौतम कुमार (23) की डूबने से मौत हो गयी. प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि गौतम और उसका दोस्त प्रियांशु कुमार चारों धाम स्थित सेंटर पर कराटे का प्रशिक्षण लेने आये थे. प्रशिक्षण खत्म होने के बाद दोनों स्नान करने लगे. इस क्रम में पैर फिसलने के कारण गौतम कुमार गहरे पानी में चला गया और डूबने लगा. प्रियांशु ने उसे बचाने की कोशिश की तो खुद डूबने लगा. इस बीच लोगों द्वारा हल्ला करने पर कराटे प्रशिक्षण केंद्र के संचालक आनंद कुमार गुप्ता ने गंगा में छलांग लगा दी और डूबते हुए प्रियांशु को बचा लिया. जबकि, दूसरा छात्र तब तक डूब चुका था. युवक की खोज की जा रही थी. जिले में नवगछिया के खरीक थाना क्षेत्र के काजीकौरैया गंगा घाट के समीप नहाने के दौरान उसी गांव के विकास साह के नौ वर्षीय पुत्र प्रियांशु कुमार की डूबने से मौत हो गयी. स्थानीय गोताखोरों के सहयोग से देर रात नदी से शव निकाला गया.

नवादा में चार बच्चों की मौत

नवादा के वारिसलीगंज थाना क्षेत्र की मोहिउद्दीनपुर पंचायत के गंभीरपुर गांव स्थित तालाब में डूबने से चार मासूम बच्चों की मौत हो गयी. इसके बाद परिजनों में कोहराम मच गया. जानकारी के अनुसार, गुरुवार को लगभग चार बजे गंभीरपुर गांव निवासी समीर कुमार, पीयूष कुमार, रितिक कुमार व रिसव कुमार गांव के पश्चिम दिशा में स्थित तालाब में स्नान करने गये. सभी तालाब में स्नान करने लगे. इस दौरान तालाब के एक कोने पर लगभग दस-बारह फुट खोदे गये गढ्डों के पास चले गये. इससे स्नान के दौरान चारों बच्चे गहरे पानी में डूबने लगे. आसपास किसी के नहीं रहने के कारण चारों बच्चों को नहीं बताया जा सका और डूबने से मौत हो गयी. 

सहरसा की घटना..

सहरसा के सौर बाजार थाना क्षेत्र के सहुरिया पूर्वी पंचायत स्थित वार्ड 6 रुपौली में गुरुवार की देर शाम गांव से पूरब की दिशा में बह रही नदी में नहाने के दौरान 18 वर्षीय युवक की डूबने से मौत हो गयी. नदी में नहा रहे अन्य युवक ने डूबने की जानकारी आसपास के खेत में काम कर रहे लोगों को दी. युवक के नदी में डूबने की खबर मिलते ही लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी. जहां परिजन व ग्रामीण नदी में डूबकर लापता युवक की खोजबीन नदी में करने लगा. करीब घंटों बाद युवक को मृत अवस्था में नदी से निकाला गया एवं घटना की जानकारी थाना को दी गयी. 

इन जिलों में भी हुई है मौत..

अररिया में डेढ़ साल के मासूम इरफान, कटिहार में स्वीटी कुमारी और लखीसरास में कुसुम देवी की मौत डूबने से हो गयी. वहीं सुपौल और मधेपुरा में एक-एक मौत हुई है. जबकि रोहतास में दो, कैमूर में एक व नालंदा, भोजपुर, बेतिया और बेगूसराय में भी एक-एक लोगों की मौत डूबने से हो गयी.

Ballia Tak on WhatsApp

Comments

Post A Comment