जब सामने आ जाए पार्टनर का पुराना अफेयर, मैरिड लाइफ को बर्बाद होने से रोकने के लिए अपनाएं ये तरीके

On

हर किसी का अपना एक अतीत होता है किसी का बुरा तो किसी का अच्छा। इससे परेशानी तब होती है जब गुजरा हुए कल की बातें फिर से हमारे सामने आ जाती हैं। अक्सर ये देखा गया है कि जिन लोगों का अफेयर होता है, उनका अफेयर और जीवन साथी यानी पति एक ही नहीं होते। यानी लव और लाइफ के पार्टनर अलग-अलग ही होते हैं। हालांकि ऐसा अक्सर होता है कोई जरूरी नहीं है हमेशा ऐसा हो। 

ये बात सही है कि अगर पति या पत्नी में से किसी को भी शादी के बाद, अपने पार्टनर के शादी से पहले के अफेयर के बारे में पता चले तो उसे बुरा लगेगा है, चीटेड फील होगा, दर्द होगा, भरोसा टूटेगा। लेकिन यह उस बुरी स्थिति से तो कम होगा, जो तलाक लेने से या अपनी बसी बसाई गृहस्थी को बर्बाद करने से उपजेगी। बच्चों को समझाना, जिंदगी को पटरी पर लाना और सबसे बड़ी बात कि जिस इंसान से आप इतना प्यार करती हैं, उससे बिना जीवन में आगे बढ़ना निश्चित रूप से बहुत कठिन हो सकता है। 

यह भी पढ़े - Car Tips: गर्मी के मौसम में कार के इंजन का रखें ख्याल, देखभाल से बचेगा गैर-जरूरी खर्चा, जानें डिटेल 

ऐसे में हड़बड़ी या किसी की सुनकर या देखादेखी या सिर्फ इंडिपेंडेंट वुमन बनने के चक्कर में ऐसा कोई कदम न उठाएं जिसे बाद में सही न किया जा सके। पास्ट जब तक पास्ट है, उसे अपने प्रेजेन्ट का हिस्सा न बनने देना और अपनी जिंदगी को उसी प्यार और भरोसे के साथ आगे बढ़ाना आपके अपने हाथ में है। आज हम आपको कुछ तरीकों के बारे में बताने जा रहे हैं जिनसे आप अपने पुराने अफेयर को अपनी मैरिड लाइफ को बर्बाद होने से रोक सकते हैं। 

अगर आपका या आपके साथी का अतीत में अफेयर रहा है और आप दोनों एक टीम के रूप में उस घटना से, उस पास्ट से आगे बढ़ना चाहते हैं, तो इन बातों का हमेशा ध्यान रखें

गलतियों से सीखें
आपको ये स्वीकार करना होगा कि शादी को चलाना दो लोगों का काम है और शायद ऐसा कुछ था जो आपने किया या नहीं किया जिससे आपका जीवनसाथी भटक गया। ऐसा भी हो सकता है कि आपने अपने साथी की उस तरह सराहना या कद्र नहीं की जो आपको करनी चाहिए थी, और ये भी हो सकता है कि आप उनसे छोटी-छोटी बातों पर रूठ जाती रही हों, जिससे वह सुकून की तलाश में कहीं और चले गए या भटक गए। 

वहीं यह भी हो सकता है, कि आप दोनों के बीच का रोमांस और स्पार्क ऑफिस, घर, काम और जिम्मेदारियों के चलते फीका पड़ गया हो! और आप ने भी अपने रिलेशनशिप के उस स्पार्क को जिंदा रखने के लिए कुछ न किया हो। इसका कारण कुछ भी हो या रहा हो।

रिश्ता चाहे आपके उनकी जिंदगी में आने के बाद का हो या पहले का, प्रजेंट सिचुएशन की जिम्मेदारी चूंकि आपकी है, अपनी लव और लाइफ को बचाने और रिश्ते को प्यार से निभाने की जिम्मेदारी आपकी है, तो निभानी तो पड़ेगी। ऐसे में एक दूसरे पर ब्लेम देने के बजाय प्यार से चीजों को हैंडल करें। कुछ समय निकालकर उन क्षणों को पहचानने का प्रयास करें, जब आपको एहसास हुआ कि चीजें बदल गई हैं। 

एक बार जब यह पता लग जाता है कि गलती कहां हुई है, तो चीजों और रिश्तों को संभालने में आसानी होती है। साथ ही यह उम्मीद भी रहेगी, कि सेम गलती दोबारा न हो। पुराना अफेयर हो या चीटिंग, दोनों के ही बाद, शादी को टूटने से बचाने में समय और केयर लगती है, इसीलिए कोशिश करने से डरें नहीं।

अतीत को न खोदें
हालांकि जो हुआ उसके बारे में दोषी पक्ष को खराब महसूस करना चाहिए, लेकिन, इस जगह पर आपको यह समझना जरूरी है, कि गलती का अहसास या गिल्ट कभी भी कराने से नहीं आता। बल्कि रिश्तों मे सच तो ये है कि जब, किसी को गिल्टी फील कराया जाता है न, तो वह उल्टा, ढीठ हो जाते हैं।

इसीलिए, नर्मी की जरूरत तो पड़ेगी। व्यक्ति में अगर खुद ही गिल्ट है, उस बात को लेकर, तब तो आपको हर हाल, में सामने वाले का हौसला बढ़ाना है, चीजों को भूलने और भुलाने पर जोर देना है। ये भी हो सकता है कि कभी किसी कमजोर क्षण में आपके मुंह से बात निकल ही जाए, तो अपने पार्टनर को पहले ही बताएं, कि आप वादा नहीं करतीं, लेकिन पूरी कोशिश करेंगी, कि ये बात आप दोनों के रिश्तें में दरार का कारण नहीं बनेंगी। ये बात सिर्फ कहने के लिए न कहे, बल्कि इसे निभाएं। एक टीम के रूप में आगे बढ़ने के लिए, जो जरूरी नहीं है, उसे पीछे छोड़ना ही बेहतर है।

कोशिश जरूर करें
अपने जीवनसाथी के अफेयर का पता लगने जैसी बात से उबरना आसान नहीं है और जिस समय ऐसी बातें पता चलती हैं, निश्चित रूप से, दूर जाना साथ रहने से आसान लग सकता है। लेकिन कई लोग, कई कारणों से साथ रहना पसंद करते हैं, जिनमें बच्चे, वित्तीय तनाव तो शामिल हैं ही, कई बार वो सिर्फ इसलिए भी साथ होते हैं, क्योंकि वे अपने जीवनसाथी से प्यार करते हैं और अपने रिश्ते को एक और मौका देना चाहते हैं।

शादी या रिश्ते में रहने के कारणों से कोई फर्क नहीं पड़ता। जरूरी ये समझना है कि इस कोशिश के लिए प्रयास करने होंगे। सच्चा प्यार करना होगा। लगाव रखना होगा। केमेस्ट्री को फील करना होगा। पास्ट में जो हो चुका है उसे भुलाना होगा। नजदीकियों को बढ़ाना होगा। जो प्यार आपको उनसे है, उसे रिफलेक्ट करना होगा। प्यार की उस तासीर को उन तक पहुंचाना होगा। मानते हैं आपकी गलती नहीं है। लेकिन शादी और पति तो आपका है। अपने रिश्तें को वर्क कराना तो आपका मन है। उन पर जितना ज्यादा गुस्सा आए, उतना ज्यादा प्यार लुटाने की कोशिश करें। 

तुलना न करें
आपको हमेशा याद रखना होगा कि तुलना कभी न करें। अपनी तुलना उस व्यक्ति से न करें जिससे आपके जीवनसाथी ने आपको धोखा दिया हो। अपनी अपेक्षाओं की वास्तविकता से तुलना न करें। निश्चित रूप से, अतीत की वर्तमान से तुलना करना गलतियों को सुधारने और सीखने का एक शानदार तरीका है, लेकिन हर छोटी चीज की तुलना करने से निस्संदेह आप इस बात पर बहुत अधिक ध्यान केंद्रित करेंगे कि चीजों को फिर से ठीक करना कितना कठिन होगा।

माफ करना सीखें
माफी का रास्ता चाहें कितना ही कठिन और लंबा क्यों न हो, हमें इसे अपने रिश्ते की खातिर करना चाहिए। प्यार में तो यही होता है। हां, अगर ये लगता है कि जो हो चुका उसे भुलाया नहीं जा सकता! तो निश्चित रूप से वॉक आउट आपके लिए बेहतर ऑप्शन है।

Ballia Tak on WhatsApp

Comments

Post A Comment