Delhi Liquor Policy Scam: शराब घोटाले में ईडी ने दाखिल की चार्जशीट, अरविंद केजरीवाल को बताया किंगपिन, 38 लोगों को बनाया आरोपी

On

Delhi Liquor Policy Scam: दिल्ली शराब घोटाले मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने अपनी चार्जशीट दाखिल कर दी है। ईडी ने चार्जशीट में 38 लोगों को आरोपी बनाया है। इसके साथ ही ईडी ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को किंगपिन और मुख्य साजिशकर्ता बनाया है।

अरविंद केजरीवाल शराब घोटाले के किंगपिन

यह भी पढ़े - IAS Pooja Khedkar के बारे में सुना क्या ?

दिल्ली शराब घोटाले मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने चार्जशीट में कुल 38 लोगों को आरोपी बनाया गया है, जिसमें आम आदमी पार्टी को 38 नंबर का आरोपी और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को 37 वें नंबर का आरोपी बनाया गया है। ईडी ने अपनी चार्जशीट में कहा है कि गोवा इलेक्शन में रिश्वत के पैसे का इस्तेमाल किया गया और अरविंद केजरीवाल को इसकी पूरी जानकारी थी। केजरीवाल इसमें भी शामिल थे।

शराब घोटाले में ईडी ने दाखिल की चार्जशीट

ईडी की चार्जशीट के मुताबिक, अरविंद केजरीवाल और आरोपी विनोद चौहान के व्हाट्सएप चैट के डिटेल भी एजेंसी को मिली है। ईडी का आरोप है कि के कविता के पीए ने विनोद के जरिए 25.5 करोड़ रुपये गोवा चुनाव के दौरान आम आदमी पार्टी को पहुंचाए थे। इसके साथ ईडी ने दावा किया है कि अरविंद केजरीवाल और आरोपी विनोद चौहान के आपस में अच्छे रिश्ते थे।

कब लागू हुई थी दिल्ली नई आबकारी नीति

दिल्ली सरकार ने 17 नवंबर, 2021 को नई आबकारी नीति लागू की। नई आबकारी नीति में भ्रष्टाचार के आरोप लगे तो दिल्ली सरकार ने सितंबर 2022 में इस पॉलिसी को रद्द कर दिया।

क्या है ईडी का आरोप?

ईडी का आरोप है कि दिल्ली के मुख्यमंत्री ने अब रद्द कर दी गई आबकारी नीति का मसौदा तैयार करने और शराब लाइसेंस के बदले रिश्वत मांगने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। एजेंसी ने दावा किया है कि आम आदमी पार्टी को 100 करोड़ रुपये की रिश्वत मिली थी जिसका इस्तेमाल उसके गोवा और पंजाब चुनाव अभियानों के लिए किया गया था।

Ballia Tak on WhatsApp
Tags

Comments

Post A Comment

Popular Posts